जवाँ गांव में जल संरक्षण के लिए ग्राम स्वास्थ्य एवं स्वच्छता समिति द्वारा जागरूकता रैली

NaradSandesh।।फरीदाबाद 22 मई,2024 : प्राथमिक चिकित्सा केंद्र छांयसा द्वारा गांव जवाँ गांव में ग्राम स्वास्थ्य और स्वच्छता समिति की एक बैठक का आयोजन किया गया। गांव के सरपंच विष्णु ने घरों में हो रहे पानी की बर्बादी का मुद्दा उठाया, जिससे गांव में जलभराव और भूमिगत जल स्तर में कमी की समस्या हो रही है। इसके बाद, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छांयसा के चिकित्सा अधिकारी डॉ. अंकित चंद्र ने जलभराव के कारण मच्छरों के पनपने की चिंता व्यक्त की और इसमें गांव में मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारी होने का खतरा बताया। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर जवाँ के स्वास्थ्य कर्मी योगिता ने इस खतरे को देखते हुए जागरूकता रैली आयोजित करने का सुझाव दिया।


इस बैठक के बाद सरकारी हाई स्कूल जवाँ के प्रधानाचार्य प्रेम कुमार और शिक्षक नरेंद्र, सतवीर और लीना के मार्गदर्शन में एक जागरूकता अभियान आयोजित किया गया। छात्रों ने उत्साहपूर्वक जल है तो कल है, जल ही जीवन है, के नारे लगाए। इस अभियान में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर जवाँ के स्वास्थ्य कर्मियों योगिता, बीना,मनचंदा , पूनम और गांव की आशा कार्यकर्ताओं ने सक्रिय रूप से भाग लिया। जागरूकता अभियान के दौरान, जहां भी अत्यधिक जल अपव्यय देखा गया, उसे तुरंत बंद कराया गया और लोगों को भविष्य की पीढ़ी के लिए जल संरक्षण के बारे में व्यक्तिगत रूप से जानकारी दी गई। डॉ अंकित, डॉ. हरीश और डॉ. सत्या ने लोगों को आसपास के क्षेत्रों में साफ सफाई और पानी के संग्रह होने से बचने के लिए बोला और मच्छर जनित बीमारियों के के बारे में जानकारी दी।

Previous Post Next Post

نموذج الاتصال